-->

कम्प्यूटर शब्दावली | Computer Glossary in Hindi

Computer Glossary in Hindi– कम्प्यूटर में ऐसे बहुत से टेक्निकल टर्म्स (Technical Terms) होते हैं, जिनके बारे में जानकारी होनी आवश्यक है, क्योंकि जब हम कोई पुस्तक पढ़ते है तो उसमें हमें बहुत से Computer Terms ऐसे मिलते हैं जिनके बारे में हमे जानकारी न होने के कारण चीज़ों को हम अच्छी तरह से समझ नही पाते हैं।

इसीलिए आपकी जानकारी में बढ़ोत्तरी के लिए कम्प्यूटर शब्दावली, टर्म्स और डिक्शनरी (Computer Glossary, Terms and Dictionary) को A to Z क्रम में प्रकाशित किया जा रहा है। जिससे आप आसानी से जरूरत के हिसाब से भी पढ़ सकते हैं।

कम्प्यूटर शब्दावली | Computer Glosarry in Hindi

Computer Glossary in Hindi, Computer Terms, Computer Dictionary in Hindi

Computer Terms that starts with letter “A”

अबेकस (Abacus)– अबेकस गणना करने के लिए प्रयोग में लाया जाने वाला अति-प्राचीन यन्त्र है, जिसके द्वारा अंकों को जोड़ा व घटाया जा सकता है। अबेकस का आविष्कार चीन में 3000 ई.पू. में हुआ था।

ऐक्युमलेटर (Accumulator)– ऐक्युमलेटर एक प्रकार का रजिस्टर होता है, जो प्रोसेसिंग के दौरान डेटा और निर्देशों को संगृहीत करता है।

ऐक्टिव सैल (Active Cell)– MS-Excel में प्रयुक्त होने वाला वह सैल (Cell), जिसमें यूजर डेटा को लिखना चाहता है, ऐक्टिव सैल कहलाता है।

ऐक्टिव डिवाइस (Active Device)– वह उपकरण (Device), जिसमें कोई कार्य वैद्युत प्रवाह द्वारा सम्पादित किया जाता है, ऐक्टिव डिवाइस कहलाता है।

ऐक्टिव विण्डो (Active Window)– कम्प्यूटर में उपस्थित वह विण्डो, जो यूजर द्वारा वर्तमान समय में सक्रिय है, ऐक्टिव विण्डो कहलाता है।

एड्रेस (Address)– कम्प्यूटर की मैमोरी में उपस्थित वह स्थान जहाँ डेटा स्टोर होता है ऐड्रेस कहलाता है।

ऐल्गोरिथ्म (Algorithm)– कम्प्यूटर को दिए जाने वाले अनुदेशों का वह क्रम, जिसके द्वारा किसी कार्य को पूरा किया जाता है, ऐल्गोरिथ्म कहलाता है।

एलाइनमेण्ट (Alignment)– डेटा में पैराग्राफ को व्यवस्थित करने की प्रक्रिया एलाइनमेण्ट कहलाती है।

एल्फान्यूमेरिक (Alphanumeric)– एल्फाबेट्स और नम्बर्स के समुच्चय को एल्फान्यूमेरिक कहते हैं। इसमें (A-Z) अक्षरों तथा (0-9) अंकों के समुच्चय होते हैं।

एनालॉग (Analog)– भौतिक राशि की वह मात्रा, जो लगातार तरंगीय रूप में परिवर्तित होती है; जैसे– प्रत्यावर्ती वैद्युत धारा (AC), दिष्ट धारा (DC), विद्युतीय तरंगें आदि।

एनालॉग कम्प्यूटर (Analog Computer)– ये ऐसे कम्प्यूटर होते हैं जो अंकों की सहायता से गणनाएँ नहीं करते ये लगातार संकेतों को मापकर गणनाएँ करते हैं।

एण्टीवायरस (Antivirus)– एण्टीवायरस निर्देशों का समूह अथवा प्रोग्राम होता है, जिसके द्वारा कम्प्यूटर को वायरस से होने वाली क्षति से बचाया जाता है।

एप्लीकेशन सॉफ्टवेयर (Application Software)– किसी विशेष कार्य के लिए बनाए गए एक या अधिक प्रोग्रामों का समूह ऐप्लीकेशन सॉफ्टवेयर कहलाता है।

आर्टीफिशियल इण्टेलिजेन्स (Artificial Intelligence)– मानवीय गुणों के अनुरूप सोचने, समझने एवं तर्क करने की क्षमता को, कम्प्यूटर की भाषा में आर्टिफिशियल इण्टेलिजेन्स कहते हैं।

ए एस सी आई आई (ASCII) (American Standard Code for Information interchange)– यह एक प्रचलित कोड है जिसके द्वारा अक्षरों तथा संख्याओं को 8 बिट के रूप में प्रदर्शित किया जाता है।

असेम्बलर (Assembler)– कम्प्यूटर में प्रयुक्त वह प्रोग्राम, जो असेम्बली भाषा को मशीनी भाषा में परिवर्तित करता है, असेम्बलर कहलाता है।

असेम्बली लैंग्वेज (Assembly Language)– एक प्रकार की कम्प्यूटर भाषा, जिसमें अक्षरों तथा अंकों को छोटे-छोटे कोड में लिखा जाता है।

ऑथेंटीकेशन (Authentication)– वह पद्धति, जिसके BRT यूजर की वैधता की पहचान की जाती है।

ऑक्जिलरी मैमोरी (Auxiliary Memory)– इसे द्वितीयक मैमोरी (Secondary Memory) भी कहा जाता है। यह प्राथमिक मेमोरी (Primary Memory) से अधिक क्षमता वाली तथा उसकी सहायक होती है।


Computer Terms that starts with letter B

बेसिक (BASIC)– यह एक उच्चरतरीय भाषा है। यह अत्यन्त सरल और उपयोगी है। बेसिक प्रायः सभी कम्यूटरों के साथ उपलब्ध होती है।

बाइनरी (Binary)– यह गणना करने के लिए प्रयोग की जाने वाली संख्या प्रणाली है। बाइनरी में केवल 0 और 1 अंकों का है प्रयोग होता है।

बिट (Bit)– बाइनरी अंक अर्थात्‌ 0 या 1 को बिट कहा जाता है। यह कम्प्यूटर की सबसे छोटी इकाई है।

बाइट (Byte)– 8 बिट को सम्मिलित रूप से बाइट कहा जाता है। एक किलोबाइट में 1024 बाइट होते हैं। कम्प्यूटर की मेमोरी को मेगाबाइट में मापा जाता है।

बैकबोन (Backbone)– कम्प्यूटर नेटवर्क में अन्य कम्प्यूटरों को आपस में जोड़ने वाली मुख्य लाइन बैकबोन कहलाती है।

बैकअप (Backup)– कम्प्यूटर द्वारा डिस्क पर उपस्थित सारी सूचना की एक कॉपी बना दी जाती है जिसे बैकअप कहते हैं। भविष्य में जरूरत पड़ने पर बैकअप में स्टोर डेटा को रिस्टोर कर उपयोग किया जाता है।

बैंडविड्थ (Bandwidth)– डेटा संचरण में प्रयोग की जाने वाली आवृत्ति (Frequency) की उच्चतम और निम्नतम सीमा का अन्तर बैंडविड्थ कहलाता है। इसे बिट्स प्रति सेकण्ड (BPS) से मापते हैं।

बार कोड (Bar Code)– मुख्य रूप से बार कोड विभिन्‍न चौड़ाई की ऊर्ध्वाधर पट्टियाँ होती हैं, जोकि एल्फान्यूमेरिक डेटा को व्यक्त करती हैं। बार कोड किसी भी उत्पाद के कोड (Code) को प्रदर्शित करता है।

बैच प्रोसेसिंग (Batch Processing)– यह एक आपरेटिंग सिस्टम है जिसमें किसी प्रोग्राम को बंडल के रुप में एग्जीक्यूट किया जाता है।

बायोमेट्रिक डिवाइस (Biometric Device)– वह डिवाइस जो दो व्यक्तियों के भौतिक गुणों (फिंगर प्रिण्ट, हस्तरेखाएँ, आवाज आदि) की पहचान कर विभेद करती है।

ब्रॉडबैंड (Broadband)– यह एक कम्प्यूटर नेटवर्क होता है, जिसकी संचरण की गति 1 मिलियन बिट्स प्रति सेकण्ड (MBPS) या इससे भी अधिक होती है।

ब्राउजर (Browser)– वह सॉफ्टवेयर जो HTML फाइलें को वेब पेजेज के रूप में प्रदर्शित करता है, ब्राउजर के माध्यम से हम इण्टरनेट पर उपलब्ध इन्फोर्मेशन को देख सकते हैं।

बस (Bus)– एक प्रकार का वह मार्ग है, जो डेटा या इलेक्ट्रॉनिक सिग्नल को एक स्थान से दूसरे स्थान तक लेकर जाता है।

ब्लूटूथ (Bluetooth)– यह एक ऐसी वायरलैस (बिना तार वाली) तकनीक है, जिसमें बहुत छोटी दूरी पर स्थित दो माध्यमों में डेटा का आदान-प्रदान किया जा सकता है।

बग (Bug)– यह एक प्रकार की त्रुटि होती है, जो कम्प्यूटर में उपस्थित प्रोग्रामों में पाई जाती है। बग को हटाने की प्रक्रिया डीबगिंग कहलाती है।


Computer Terms that starts with letter C

चिप (Chip)– यह सामान्यतः सिलिकॉन अथवा अन्य अर्द्धचालकों से बना छोटा टुकड़ा होता है, जिस पर विभिन्‍न प्रकार के कार्यों को पूरा करने के लिए इलेक्ट्रॉनिक सर्किट बने होते हैं। इसे इण्टीग्रेटिड सर्किट भी कहते हैं।

सी डी-आर/डब्लू (CD-R/W)– इसे विस्तृत रूप से Compact Disk-Read/Write कहा जाता है। यह एक स्टोरेज डिवाइस है, जिसमें डेटा को बार-बार लिखा तथा पढ़ा जा सकता है।

सी डी-आर (CD-R)– इसे विस्तृत रूप से Compact Disk-Recordable कहा जाता है। इस स्टोरेज डिवाइस में डेटा को केवल पढ़ा जा सकता है। लेकिन पहले से संगृहीत डेटा में कोई भी परिवर्तन नहीं किया जा सकता है।

सैल (Cell)– कॉलम और पंक्ति से निर्मित भाग को सेल कहा जाता है।

सी पी यू (CPU)– इसका विस्तृत रूप Central Processing Unit है। यह कम्प्यूटर में होने वाली सभी क्रियाओं की प्रोसेसिंग करता है। यह कम्यूटर का दिमाग कहलाता है।

कैरेक्टर प्रिण्टर (Character Printer)– इसकी विशेषता यह है कि यह एक बार में केवल एक ही कैरेक्टर (जैसे- अंक, अक्षर अथवा कोई भी चिह्न) को प्रिण्ट करता है।

चैट (Chat)– इण्टरनेट के माध्यम से दो उपयोगकर्ताओं के बीच स्थित वास्तविक संचार चैट कहलाता है।

क्लिक (Click)– माउस के बटन को दबाना 'क्लिक' करना कहलाता है।

क्लाइण्ट कप्प्यूटर (Client Computer)– वह कम्प्यूटर, जो नेटवर्क में सर्वर को सूचना के आदान-प्रदान की सेवा प्रदान करता है, क्लाइण्ट कम्प्यूटर कहलाता है।

क्लिपआर्ट (ClipArt)– कम्प्यूटर में उपस्थित चित्रों तथा छवियों का एक समूह है।

कम्पोनेण्ट (Component)– यूटीलिटी सॉफ्टवेयर के अन्तर्गत प्रयुक्त होने वाले पुर्जे कम्पोनेण्ट कहलाते हैं।

कम्पाइल (Compile)– उच्च स्तरीय तथा निम्न स्तरीय भाषाओं को मशीनी भाषा में बदलना कम्पाइल करना कहलाता है।

कम्पाइलर (Compiler)– यह उच्च स्तरीय भाषा को मशीनी भाषा में बदलने के लिए प्रयुक्त किया जाता है।

कमाण्ड (Command)– कम्प्यूटर में किसी कार्य को पूरा करने के लिए जब कोई निर्देश दिया जाता है, तो उसे कमाण्ड देना कहते हैं।

कोडिंग (Coding)– प्रोग्रामिंग भाषा में अनुदेशों को लिखने की क्रिया Coding कहलाती है।

को-ऐक्सिल केबल (Co-axial Cable)– यह एक विशेष तार है जिसे डेटा संचरण के लिए प्रयुक्त किया जाता है। को-एक्सिल केबल में एक केन्द्रीय तार तथा उसके चारों ओर तारों की जाली होती है।

क्लिप बोर्ड (Clip Board)– यह साफ्टवेयर की एक सुविधा है जिसके माध्यम से किसी डेटा को अल्पकाल के लिए, मैमोरी में स्टोर किया जाता है, तथा डेटा हस्तांतरण के लिए इसका प्रयोग होता है।

कम्प्यूटर (Computer)– यह गणना करने वाला एक यंत्र है जो यूजर द्वारा प्राप्त निर्देशों की प्रोसेसिंग करके उसका उपयुक्त परिणाम आउटपुट डिवाइस के द्वारा प्रदर्शित करता है।

कम्प्यूटर एडेड डिजाइन (Computer Aided Design)– किसी कम्प्यूटर सिस्टम में डिजाइन के निर्माण, संशोधन, विश्लेषण या अनुकूलन में कम्प्यूटर एडेड डिजाइन का प्रयोग किया जाता है।

कम्प्यूटर एडेड मेन्युफेक्चरिंग (Computer Aided Manufacturing)– सॉफ्टवेयर का प्रयोग मशीन टूल्स के निर्माण और मशीन से सम्बन्धित उपकरणों को नियन्त्रित करने के लिए किया जाता है।

कम्प्यूटर नेटवर्क (Computer Network)– एक ऐसा नेटवर्क जो एक कम्प्यूटर से दूसरे कम्प्यूटर पर डेटा के आदान-प्रदान की अनुमति देता है, कम्प्यूटर नेटवर्क कहलाता है।

कम्प्यूटर सिस्टम (Computer System)– यह एक ऐसा सिस्टम है जिसमें एक ही सी पी यू होता है जो विभिन्‍न डिवाइसों (जैसे– मॉनीटर, माउस, प्रिण्ट आदि) को कनैक्ट करता है।

कण्ट्रोल पैनल (Control Panel)– यह माइक्रोसॉफ्ट विण्डोज ग्राफिकल यूजर इण्टरफेस का एक हिस्सा है जो यूजर को सिस्टम की सैटिंग ठीक करने की अनुमति देता है।

कट (Cut)– किसी डाक्यूमेण्ट के डेटा को हटाने के लिए कट का प्रयोग किया जाता है।

क्रिप्टोग्राफी (Cryptography)– किसी डेटा तथा निर्देशों को सिफर टेक्स्ट के द्वारा संरक्षित कर देने तथा आवश्यकता पड़ने पर पुनः सेव किए गए डेटा तथा निर्देश को प्राप्त करने की प्रक्रिया को क्रिप्टोग्राफी कहा जाता है।

सी डी-रोम (CD-ROM)– यह भण्डारण युक्ति है, जोकि प्लास्टिक की बनी होती है तथा इसमें डेटा लेजर बीम की सहायता से स्टोर किया जाता है। इसकी भण्डारण क्षमता 700 MB (80 मिनट) होती है।

कर्सर (Cursor)– टेक्स्ट लिखते समय कम्प्यूटर स्क्रीन पर ब्लिंक करने वाली खड़ी रेखा को कर्सर कहते हैं।


Computer Terms that starts with letter D

डेटा (Data)– डेटा तथ्यों और अव्यवस्थित आँकडों का समूह है, डेटा दो रूपों में पाया जाता है संख्यात्मक डेटा तथा चिह्नात्मक डेटा।

डेटाबेस (Database)– डेटाबेस सूचनाओं तथा महत्त्वपूर्ण डेटा का संग्रह होता है जिसकी सहायता से आवश्यकता पड़ने पर डेटा को आसानी से प्राप्त किया जा सकता है, अपडेट किया जा सकता है, तथा मैनेज किया जा सकता है।

डेटाबेस मैनेजमेण्ट सिस्टम (Data Base Management System) (DBMS)– इसमें बहुत से प्रोग्रामों का समूह होता है। जिसके द्वारा डेटा को व्यवस्थित करने, सूचना देने अथवा उसमें परिवर्तन करने आदि के कार्य सरलतापूर्वक किए जाते हैं।

डेटा एंट्री (Data Entry)– डेटा तथा निर्देशों को कम्प्यूटर में प्रविष्ट करना, डेटा एंट्री कहलाता है।

डेटा प्रोसेसिंग (Data Processing)– डेटा तथा निर्देशों को आवश्यकतानुसार प्रयोग में लाकर आउटपुट प्राप्त करना अथवा डेटा को व्यवस्थित करना, डेटा प्रोसेसिंग कहलाता है।

डेटा रिडण्डेन्सी (Data Redundancy)– एक फाइल, एक या एक से अधिक बार अलग-अलग नामों से कम्प्यूटर सिस्टम में संगृहीत होती है तो उसे डेटा रिडण्डेन्सी कहा जाता है।

डीबगिंग (Debugging)– दिए गए डेटा तथा प्रोग्राम में गलतियों को ढूंढने तथा उन्हें सुधारने की क्रिया डीबगिंग कहलाती है।

डिबगर (Debugger)– डीबगिंग को प्रयोग करने के लिए प्रयुक्त किए जाने वाले सॉफ्टवेयर डिबगर कहलाते हैं।

डिमॉड्यूलेशन (Demodulation)– इसके द्वारा मॉडुलेट किए गए डेटा माध्यम से अलग किए जाते हैं, जिससे उस डेटा का पुन: प्रयोग किया जा सके। डिमॉड्यूलेशन के द्वारा एनालॉग क्रिया को डिजिटल में परिवर्तित किया जा सकता है।

डेस्कटॉप (Desktop)– कम्प्यूटर को ऑन करने के तुरन्त बाद कम्प्यूटर स्क्रीन पर दिखाई देने वाले वाले यूजर इण्टरफेस को डेस्कटॉप कहते हैं।

डायलॉग बॉक्स (Dialog Box)– इसका प्रयोग कम्प्यूटर तथा यूजर के मध्य संवाद करने के लिए किया जाता है। डायलॉग बॉक्स विण्डोज सॉफ्टवेयर में प्रयोग किया जाता है।

डायल-अप लाइन (Dial-Up Line)– वह लाइन, जिसके द्वारा संचार व्यवस्था स्थापित की जाती है, डायल-अप लाइन कहलाती है।

डिजिटल कम्प्यूटर (Digital Computer)– इन कम्प्यूटरों में इलेक्ट्रॉनिक संकेतों का प्रयोग किया जाता है। आधुनिक युग में प्रयुक्त कम्प्यूटर डिजिटल कम्प्यूटर ही है।

डिजिटल विडियो डिस्क (Digital Video Disk)– यह एक भण्डारण युक्ति है। जिसमें सूचनाओं को पढ़ने तथा लिखने के लिए लेजर किरणों का प्रयोग किया जाता है| जिस कारण इसे प्रकाशीय डिस्क भी कहते है।

डिस्क ड्राइव (Disk Drive)– वह डिस्क जिसके द्वारा डेटा पढ़ सकते हैं, कम्प्यूटर डिस्क पर लिखने की अनुमति देता है, डिस्क ड्राइव कहलाता है।

डिस्केट (Diskette)– फ्लॉपी डिस्क को ही डिस्केट कहा जाता है। यह एक पतली चुम्बकीय डिस्क है। जिसे डेटा भण्डारण के लिए प्रयोग किया जाता है।

डिस्क ऑपरेटिंग सिस्टम (Disk Operating System-DOS)– डिस्क ऑपरेटिंग सिस्टम आई बी एम द्वारा प्रयोग किया गया पहला ऑपरेटिंग सिस्टम है। यह कमाण्ड लाइन, टेक्स्ट आधारित इण्टरफेस का उपयोग करता है।

डिस्क पैक (Disk Pack)– दो या अधिक चुम्बकीय डिस्क का समूह, जिसे शॉफ्ट (Shaft) पर लगाकर, भण्डारण युक्ति के लिए प्रयोग किया जाता है।

डिस्प्ले यूनिट (Display Unit)– यह एक आउटपूट डिवाइस है। जिसे मॉनीटर भी कहा जाता है। यह अपनी स्क्रीन पर डेटा और परिणामों को प्रदर्शित करता है।

डोमेन नेम (Domain Name)– यह इण्टरनेट पर जुड़े हुए कम्प्यूटरों को पहचानने व लोकेट करने में काम आता है।

डॉट्स/इंच (Dots Per Inch- DPI)– डॉट मैट्रिक्स प्रिंटर्स में DPI का प्रयोग आवश्यक रूप से किया जाता है। ये प्रति एक इंच में उपस्थित बिन्दुओं की संख्या है, जो ऊर्ध्वाधर तथा क्षितिज रूप में होती है।

डॉट पिच (Dot Pitch)– यह कम्प्यूटर पर प्रदर्शित प्रिण्ट, आब्जैक्ट, कम्प्यूटर प्रिण्टर, इमेज स्कैनर तथा पिक्सल बेस्ड डिवाइस की दूरी का वर्णन करने के लिए प्रयोग किया जाता है।

डाउनलोड (Download)– इण्टरनेट या किसी अन्य कम्प्यूटर से प्राप्त सूचनाओं को अपने कम्प्यूटर में संगृहीत करने की क्रिया को डाउनलोड कहते हैं।

ड्रैग (Drag)– माउस द्वारा डेटा के किसी भाग को सिलेक्ट करके एक स्थान से दूसरे स्थान पर स्थानान्तरित करने की क्रिया ड्रैगिंग कहलाती है।


Computer Terms that starts with letter E

एडिट (Edit)– डेटा अथवा दिए गए निर्देश में किसी भी प्रकार का परिवर्तन एडिट कहलाता है।

ई ई पी रोम (EEPROM)– इसका पूर्ण रूप ‘Electronically Erasable Programmable Read Only Memory’ है। इसे फिर से प्रोग्राम करने के लिए सर्किट से हटाने और निर्माता को भेजने की आवश्यकता नहीं होती। यूजर इसको एक विशेष साफ्टवेयर या प्रोग्राम की सहायता से अपने कम्प्यूटर में ही प्रोग्राम कर सकता है।

इलेक्ट्रॉनिक डेटा प्रोसेसिंग (Electronic Data Processing)– इलेक्ट्रॉनिक माध्यम अथवा कम्प्यूटर की सहायता से डेटा तथा निर्देशों को व्यवस्थित करना।

इलेक्ट्रॉनिक मेल (Electronic Mail)– ई-मेल के माध्यम से कोई भी उपयोगकर्ता किसी भी अन्य व्यक्ति को इलेक्ट्रॉनिक रूप में सन्देश भेज सकता है और प्राप्त कर सकता है।

इनक्रिप्शन (Incription)– पूर्व निर्धारित नियमों के अनुसार सूचना या निर्देशों को गुप्त कोड में बदलने की क्रिया इनक्रिप्शन कहलाती है।

एण्ड यूजर (End User)– किसी सॉफ्टवेयर तथा हार्डवैयर का निर्माण उसके अन्तिम यूजर तक पहुँचाने के लिए किया जाता है। एण्ड यूजर को किसी भी हार्डवेयर या सॉफ्टवेयर के निर्माण की जानकारी नहीं दी जाती वह सीधे ही उसका उपयोग करते हैं।

इरेजेबल पी रोम (Erasable PROM)– इसका पूर्ण रूप Erasable Programmable Read Only Memory है, तथा संक्षिप्त रूप EPROM है। यह एक भण्डारण युक्ति है, जिसमें संचित डेटा को मिटाकर, नई सूचना को संचित किया जा सकता है।

एरर मैसेज (Error Message)– यूजर द्वारा कम्प्यूटर पर कार्य करते समय किसी त्रुटि को बताने वाला सन्देश, त्रुटि मैसेज कहलाता है।

इथरनेट (Ethernet)– यह एक आधुनिक तकनीक है। जिसका प्रयोग LAN (Local Area Network) में स्थानीय कम्प्यूटरों को जोड़ने के लिए किया जाता है।

एक्जीक्यूशन टाइम (Execution Time)– किसी एक प्रोग्राम या निर्देश को कम्प्यूटर द्वारा क्रियान्वित करने में लगा कुल समय एक्जीक्यूशन टाइम कहलाता है।

एक्जीक्यूटेबल फाइल (Exe File)– वह फाइल, जिसे कम्प्यूटर द्वारा क्रियान्वित किया जाता है, .exe फाइल कहलाती है।

ऐक्सपेंशन स्लॉट (Expansion Slot)– मदरबोर्ड के ऊपर का स्थान, जिस पर अन्य सहायक उपकरण को जोड़कर, कम्प्यूटर की क्षमता बढ़ाई जाती है, ऐक्सपेंशन स्लॉट कहलाता है।


Computer Terms that starts with letter F

फाइल (File)– बहुत से रिकार्डों एवं सूचनाओं को एक साथ सम्मिलित रूप से फाइल कहा जाता है। फाइल द्वारा कई प्रकार की सूचनाओं को एक साथ रखा जाता है।

फाइल एक्सटेंशन (File Extension)– विभिन्‍न प्रकार की फाइलों को प्रदर्शित करने के लिए दिया जाने वाला नाम, फाइल एक्सटेंशन कहलाता है।

फाइबर ऑप्टिक्स (Fibre Optics)– यह कांच या प्लास्टिक से बना एक पतला तार होता है, जिसके द्वारा डेटा एक स्थान से दूसरे स्थान पर स्थानान्तरित किया जाता है। फाइबर ऑप्टिक्स प्रकाश क्रिया पर आधारित होता है।

फाइल ट्रांसफर प्रोटोकॉल (File Transfer Protocol)– इस प्रोटोकॉल का प्रयोग, किसी फाइल को एक स्थान से दूसरे स्थान तक स्थानान्तरित करने के लिए किया जाता है।

फाइल यूटिलिटीज (File Utilities)– ये एक प्रकार के सहायक सॉफ्टवेयर होते हैं, जिसका प्रयोग फाइलों में होने वाली सामान्य क्रियाओं को नियन्त्रित करने के लिए किया जाता है।

फायरवॉल ( Firewall)– यह हार्डवेयर तथा सॉफ्टवेयर का समूह होता है, जिसका प्रयोग नेटवर्क की सुरक्षा की दृष्टि से किया जाता है। यह कम्प्यूटर नेटवर्क में प्रयुक्त सभी डेटा तथा सूचनाओं का विश्लेषण करता है।

फर्मवेयर (Firmware)– ये हार्डवेयर और सॉफ्टवेयर का संयोजन (Combination) होता है। उदाहरण के लिए रोम, प्रोम, ईप्रोम आदि।

फ्लॉपी डिस्क (Floppy Disk)– फ्लॉपी डिस्क का प्रयोग भण्डारण के लिए किया जाता है, यह प्लास्टिक की बनी होती है, जिसके ऊपर मैग्नेटिक ऑक्साइड की परत चढ़ी होती है।

फ्लोचार्ट (Flowchart)– किसी डेटा अथवा प्रोग्राम के क्रियान्वयन की दिशा एवं चरण बताने वाले चार्ट को फ्लोचार्ट कहते हैं। फ्लोचार्ट पूर्व निर्धारित चिन्हों पर आधारित होता है।

फॉन्ट (Font)– यह फॉन्ट एक निश्चित आकार और शैली का एक विशिष्ट टाइपफेस है। जिससे किसी शब्द को विभिन्‍न प्रकार से लिखने की व्यवस्था होती है।

फुटर (Footer)– किसी पेज के सबसे नीचे की पंक्ति में लिखा डेटा, फुटर कहलाता है।

फॉर्मेट (Format)– किसी भण्डारण युक्ति डिस्क को प्रयोग में लाने से पूर्व सेक्टर तथा ट्रैक में बॉटने की प्रक्रिया को फॉर्मेट कहते हैं।

फॉरट्रान (FORTRAN)– यह एक उच्च स्तरीय भाषा है जिसका प्रयोग मुख्यत: वैज्ञानिक और गणितीय कार्यों में किया जाता है।

फ्रेग्मेण्टेशन (Fragmentation)– कम्प्यूटर की मैमोरी में स्टोरेज किये गए डेटा को छोटे-छोटे भागों में रखा जाता है। जिसे फ्रेग्मेण्ट कहते हैं।

फ्रीवेयर (Freeware)– वह प्रोग्राम, जिसका निर्णय कम्प्यूटर में स्वयं ही होता है।


Computer Terms that starts with letter G

गेटवे (Gateway)– इस तकनीक के माध्यम से एक हार्डवेयर या सॉफ्टवेयर का समूह जो दो अलग-अलग प्रोटोकॉलों का अनुवाद करता है गेटवे कहलाता है।

जी आई जी ओ (GIGO)– इसका पूर्ण नाम Garbage In Garbage Out है। GIGO वह त्रुटि है, जो इनपुट किए गए गलत डेटा तथा प्रोग्राम के कारण आउटपुट में आता है।

ग्राफिकल टेबलेट (Graphic Tablet)– एक ग्राफिकल टेबलेट या डिज़िटाइजर एक कम्प्यूटर इनपुट डिवाइस है जिसकी सहायता से यूजर टेबलेट की स्क्रीन पर टच करके इमेज आदि बना सकता है।

ग्राफिकल यूजर इण्टरफेस (Graphical User Interface)– GUI को विजुअल इण्टरफेस भी कहा जाता है, क्योंकि इसके द्वारा सभी प्रकार की फाइलों, कमाण्ड्स एवं सॉफ्टवेयर इत्यादि को आइकन (Icon) के रूप में प्रदर्शित किया जाता है। इन आइकन का प्रयोग किसी प्वॉइन्टिंग डिवाइस (जैसे माउस) के माध्यम से किया जाता है।


Computer Terms that starts with letter H

हैकर (Hacker)– किसी अन्य के कम्प्यूटर पर अनधिकार प्रवेश करने वाला व्यक्ति हैकर कहलाता है।

हॉफ डुपलेक्स (Half Duplex)– यह संचरण की वह विधि है, जिसमें डेटा का संचरण दोनों दिशाओं में किया जाता है। परन्तु डेटा का संचरण एक समय में केवल एक ही दिशा में किया जाता है।

हैंग (Hang)– कम्प्यूटर पर कार्य करते समय अनावश्यक नियमों का पालन करने से कम्प्यूटर का रुक जाना, हैंग कहलाता है।

हार्डकॉपी (Hardcopy)– हार्डकॉपी कम्प्यूटर द्वारा प्रस्तुत स्थायी आउटपुट होता है, जैसे-पेपर पर प्राप्त प्रिण्ट आउटपुट।

हार्डडिस्क (Harddisk)– यह एक गोल, वृत्ताकार स्टोरेज डिवाइस है। हार्ड डिस्क सूचनाओं को स्थायी रूप से स्टोर करने का बहुत विश्वसनीय माध्यम है।

हार्डवेयर (Hardware)– कम्प्यूटर का वह भाग जिसे हम हाथों से छू सकते हैं, हार्डवेयर कहलाता है, जैसे-माउस।

हेडर (Header)– किसी पेज के सबसे ऊपर वाली पंक्ति में लिखा डेटा हेडर कहलाता है।

हेक्‍साडेसीमल नम्बर सिस्टम (Hexadecimal Number System)– वह संख्या पद्धति जिसमें कुल सोलह मूल अंक (0, 1, 2, 3, 4, 5, 6, 7, 8, 9, A, B, C, D, E तथा F) होते है जिस कारण इसका आधार भी 16 होता है।

हाई लेवल लेंग्वेज (High Level Language)– यह कम्प्यूटर की वह भाषा है, जो अंग्रेजी भाषा के सबसे करीब है। आधुनिक कम्प्यूटरों में हाई लेवल लैंग्वेज का ही प्रयोग किया जाता है।

होम पेज (Home Page)– वेबसाइट को खोलने पर सबसे पहले खुलने वाला पृष्ठ होम पेज होता है। होम पेज वेबसाइट में प्रयुक्त सूचनाओं को कण्टेन्ट्स के रूप में प्रदर्शित करता है।

हाइब्रिड कम्प्यूटर (Hybrid Computer)– एनालॉग व डिजिटल दोनों प्रकार के कम्प्यूटरों का मिश्रित रूप हाइब्रिड कम्प्यूटर कहलाता है।

हाइपरलिंक (Hyperlink)– किसी पेज या दस्तावेज को किसी अन्य पेज या दस्तावेज से जोड़ना, हाइपरलिंक कहलाता है।

हाइपरटैक्स्ट मार्कअप लैंग्वेज (HyperText Markup Language)– इसे संक्षेप में HTML कहते हैं। यह भाषा मुख्यतः वेबसाइट तथा डिजाइनिंग के लिए प्रयुक्त होती है।


Computer Terms that starts with letter I

इंक जैट प्रिंटर (Ink Jet Printer)– इस प्रिण्टर से इंक की छोटी-छोटी बून्दों को कागज पर डालकर छपाई की जाती है।

इंस्ट्रक्शन (Instructions)– किसी भी कार्य को सम्पन्न करने के लिए कम्प्यूटर द्वारा यूजर को दिए गए निर्देश इंस्ट्रक्शन कहलाते हैं।

इनपुट (Input)– परिणाम प्राप्त करने के लिए कम्प्यूटर को दिये गये डेटा तथा निर्देशों को इनपुट कहा जाता है।

इनपुट डिवाइस (Input Device)– परिणाम प्राप्त करने के लिए डेटा तथा निर्देशों को कम्प्यूटर में डालने के लिए प्रयुक्त यन्त्र को इनपुट डिवाइस कहते हैं।

इनपुट/आउपुट पोर्ट (I/O Port)– इस सर्किट द्वारा इनपुट तथा आउटपुट उपकरणों को आपस में जोड़ा जाता है।

इण्टरनेट (Internet)– दो या अधिक नेटवर्कों को आपस में जोड़कर बना एक विशाल कम्प्यूटर नेटवर्क, जिस पर अधिकतर सभी सूचनाएँ उपलब्ध होती हैं।

इण्टरनेट सर्फिंग (Internet Surfing)– उपयोगी सूचनाओं को इण्टरनेट पर खोजने को इण्टरनेट सर्फिंग कहते हैं।

इण्टरप्रेटर (Interpreter)– इसके द्वारा उच्चस्तरीय भाषा को मशीनी भाषा में परिवर्तित किया जाता है। यह एक-एक लाइन को मशीनी भाषा में परिवर्तित करता है।

आइकन (Icon)– ये छोटे ग्राफिकल चिन्ह होते हैं जो कम्प्यूटर स्क्रीन पर प्रदर्शित होते है।


Computer Terms that starts with letter J

जावा (Java)– एक प्रोग्रामिंग भाषा, जिसका प्रयोग सॉफ्टवेयर, मोबाइल एप्लीकेशन आदि बनाने में किया जाता है।

जॉयस्टिक (Joystick)– यह एक इनपुट डिवाइस है, जिसका प्रयोग मुख्यतः विडियो गेम्स खेलने के लिए किया जाता है।


Computer Terms that starts with letter K

की-बोर्ड (Key-Board)– यह एक इनपुट डिवाइस है, जो देखने में बिल्कुल टाइपराइटर के समान होती है।

कर्नल (Kernel)– ऑपरेटिंग सिस्टम का वह भाग, जिस पर अन्य कार्य आधारित होते हैं, तथा जिसमें यूजर स्वयं कोई परिवर्तन नहीं कर सकता है।

की-स्ट्रोक (Key Stroke)– की-बोर्ड में बटन को दबाने की क्रिया को की-स्ट्रोक कहते हैं।

किलोबाइट (Kilobytes) (KB)– यह मैमोरी की इकाई है।
1KB=2¹⁰ बाइट =1024 बाइट


Computer Terms that starts with letter L

लॉजिक गेट (Logic Gate)– यह एक इलेक्ट्रॉनिक परिपथ है। जिसके द्वारा एक या अधिक इनपुट संकेतों के द्वारा प्राप्त होता है, जैसे- AND, OR तथा NOT GATE

लोकल एरिया नेटवर्क (Local Area Network) (LAN)– सीमित क्षेत्र में ही एक या अधिक कम्प्यूटरों को जोड़कर प्राप्त हुये नेटवर्क को लोकल एरिया नेटवर्क कहते हैं।

लाइनक्स (Linux)– यह एक ऑपरेटिंग सिस्टम है जिसका प्रयोग व्यक्तिगत कम्प्यूटर (PC) में किया जाता है। इसका विकास अनेक प्रोग्रामरों द्वारा किया जाता है।

लार्ज स्केल इंटीग्रेशन (Large Scale Integration)– इसे संक्षेप में LSI कहते हैं। यह एक चिप है जिस पर लगभग 30000 इलेक्ट्रॉनिक उपकरण बने होते हैं।

लेपटॉप (Laptop)– यह किताब के आकार का एक छोटा कम्प्यूटर है। जिसे यूजर अपने साथ कहीं भी ले जा सकता है। क्योंकि इसे गोद (Lap) में रखकर भी प्रयुक्त कर सकते हैं इसलिए इसे लैपटॉप कहते हैं।

लोगो (Logo)– यह एक प्रोग्रामिंग भाषा है। जिसका प्रयोग बच्चों को कम्प्यूटर की शिक्षा देने में किया जाता है।

लॉग इन (Log In)– कार्य को शुरू करने के लिए प्रोग्राम में जाने की क्रिया लॉग इन कहलाती है।

लॉग ऑफ (Log Off)– अपना कार्य पूरा करने के बाद प्रोग्राम से बाहर निकलने की क्रिया लॉग ऑफ कहलाती है।

लो लेवल लैंग्वेज (Low Level Language)– लो लेवल भाषा कम्प्यूटर की आन्तरिक कार्यप्रणाली के अनुसार बनाई जाती है, ऐसी भाषाओं में लिखे गए प्रोग्रामों के पालन करने की गति अधिक होती है।

लैंग्वेज प्रोसेसर (Language Processor)– इन सॉफ्टवेयर्स के द्वारा किसी भी अन्य भाषा में लिखे प्रोग्रामों को मशीनी भाषा में परिवर्तित किया जाता है, जैसे-कम्पाइल, इण्टरप्रेटर इत्यादि।


Computer Terms that starts with letter M

माउस (Mouse)– यह एक इनपुट डिवाइस है, जिसका प्रयोग डेटा में उपस्थित किसी आवश्यक तथ्य को सिलेक्ट करने के लिए किया जाता है।

मेनफ्रेम कम्प्यूटर (Mainframe Computer)– इस कम्प्यूटर पर कई यूजर्स एक साथ अनेक कार्य कर सकते हैं। इस कम्प्यूटर की डेटा प्रोसेसिंग क्षमता अत्यधिक होती है।

मेन मैमोरी (Main Memory)– यह सी पी यू का ही भाग होती है। इसे दो भागों में बांटा जाता है रैम तथा रोम।

मेग्नेटिक स्टोरेज (Magnetic Storage)– यह डेटा सूचना को संगृहीत करने के लियें चुम्बकीय पदार्थों का उपयोग करता है, जैसे-हार्डडिस्क

मशीन लैंग्वेज (Machine Language)– यह एक निम्नस्तरीय भाषा है, जिसका प्रयोग सीधे ही कम्प्यूटर में किया जाता है अर्थात्‌ इसे किसी अन्य भाषा में परिवर्तित करने की आवश्यकता नहीं होती।

मेन्यू (Menu)– किसी सॉफ्टवेयर अथवा प्रोग्राम में उपस्थित विकल्पों की सूची को मेन्यू कहा जाता है।

माइक्रो कम्प्यूटर (Micro Computer)– ये सबसे छोटे आकार का कम्प्यूटर है। इन कम्प्यूटर्स में माइक्रो प्रोसेसर का प्रयोग किया जाता है। लैपटॉप एक माइक्रो कम्प्यूटर है।

मोडयूलेशन (Modulation)– इस प्रक्रिया द्वारा डेटा डिजिटल संकेतों को एनालॉग संकेतों में परिवर्तित करके संचार माध्यम तक भेजा जाता है।

मिनी कम्प्यूटर (Mini Computer)– इनका आकार माइक्रो कम्प्यूटर से बड़ा लेकिन मेनफ्रेम कम्प्यूटर से छोटा होता है व इनका प्रयोग वित्तीय संस्थाओं, जैसे-बैंक इत्यादि द्वारा किया जाता है।

मल्टीमीडिया (Multimedia)– इसके अन्तर्गत सूचना प्रदर्शित करने वाले दो या अधिक माध्यमों का एक साथ प्रयोग होता है, जैसे- ग्राफ, एनीमेशन, टेक्स्ट इत्यादि।


Computer Terms that starts with letter N

नेटवर्क (Network)– सूचनाओं या अन्य संसाधनों के परस्पर आदान प्रदान एवं साझेदारी के लिए दो या दो अधिक कम्प्यूटरों का परस्पर जुड़ाव कम्प्यूटर नेटवर्क कहलाता है।

नॉन इम्पेक्ट प्रिण्टर (Non Impact Printer)– नॉन इम्पैक्ट प्रिण्टर प्रिण्टिंग में इलेक्ट्रोस्टैटिक केमिकल और इंकजेट तकनीक का प्रयोग करते हैं। इसके द्वारा उच्च क्वालिटी के ग्राफिक्स और अच्छी किस्म के अक्षरों को छापा जाता है।

नेटवर्क इण्टरफेस कार्ड (Network Interface Card)– इसका प्रयोग पी सी को किसी नेटवर्क से जोड़ने के लिए किया जाता है। यह कार्ड नेटवर्किंग केबल और कम्प्यूटर इण्टरवल बस के मध्य कनेक्शन करते हैं।


Computer Terms that starts with letter O

ऑपरेटिंग सिस्टम (Operating System)– यह प्रोग्रामों का समूह है जो कम्प्यूटर के विभिन्‍न संसाधनों को नियन्त्रित करता है एवं कम्प्यूटर तथा यूजर के मध्य सम्बन्ध स्थापित करता है।

ऑनलाइन (Online)– इण्टरनेट से जुड़कर कार्य करना, ऑनलाइन होना कहलाता है।

ऑफलाइन (Offline)– आफलाइन सम्पर्क में यूजर इण्टरनेट में उपस्थित सूचनाओं को अपने-अपने कम्प्यूटर में संगृहीत करके इण्टरनेट सम्पर्क काट देता है। तत्पश्चात भी वह सूचनाओं का अध्ययन करता रहता है।

ऑक्टल नम्बर (Octal Number)– इस संख्या पद्धति में केवल आठ अंकों का प्रयोग किया जाता जाता है। (0, 1, 2, 3, 4, 5, 6, 7) जिस कारण इसका आधार आठ है।

आउटपुट (Output)– यूजर द्वारा दिए गए डेटा तथा निर्देश का कम्प्यूटर द्वारा दिया गया परिणाम आउटपुट कहलाता है।


Computer Terms that starts with letter P

प्रोसेसर (Processor)– कम्प्यूटर की क्रियाओं व अनुदेशों को प्रोसेस करने वाले भाग को प्रोसेसर कहा जाता है।

प्रोग्राम (Program)– संकेतों/निर्देशों के समूह को प्रोग्राम कहते हैं।

प्रोग्रामेबल रीड ऑनली मैमोरी (Programmable Read Only Memory) (PROM)– इस इलेक्ट्रॉनिक भण्डारण युक्‍ति द्वारा कम्प्यूटर में स्थित भण्डारण को केवल पढ़ा जा सकता है।

प्रोग्रामर (Programmer)– कम्प्यूटर पर काम करने, सॉफ्टवेयर आदि तैयार करने व उसे जाँचने वाला व्यक्ति प्रोग्रामर कहलाता है।

प्रोग्रामिंग लैग्वेज (Programming Language)– प्रोग्राम तैयार करने वाली भाषा, प्रोग्रामिंग भाषा कहलाती है।

प्रोटोकॉल (Protocol)– दो कम्प्यूटरों के बीच डेटा संचरण में सहायक नियमों का समूह प्रोटोकॉल कहलाता है।


Computer Terms that starts with letter R

रैम (RAM)– इसका विस्तृत रूप Random Access Memory है। यह एक कम्प्यूटर की प्रथम व विशेष मेमौरी है जिसमें संचित डेटा कम्प्यूटर बन्द करने पर स्वयं ही समाप्त हो जाता है।

रोम (ROM)– इसका विस्तृत रूप Read Only Memory यह एक स्थायी मैमोरी है जिसे केवल पढ़ा जा सकता कम्प्यूटर बन्द होने पर इसमें संचित डेटा समाप्त नहीं होता।

रिबूट (Reboot)– यह कम्प्यूटर को बन्द कर दोबारा स्टार्ट करने वाली प्रक्रिया है। इसे Restart भी कहते हैं।

राउटर (Router)– राउटर का प्रयोग नेटवर्क में डेटा कहीं भी भेजने में करते हैं।

रजिस्टर (Register)– रजिस्टर एक ऐसा उपकरण या साधन है, जिसमें डेटा स्टोर किया जाता है। रजिस्टर बहुत तेज गति वाली अस्थाई स्टोरेज डिवाइस है।


Computer Terms that starts with letter S

सॉफ्टवेयर (Software)– ये कम्प्यूटर के संचालन के लिए आवश्यक प्रोग्राम होते है, जिन्हें मनुष्य स्पर्श नही कर सकता।

स्कैनर (Scanner)– यह किसी टेक्स्ट या ग्राफिक प्रारूप को आवश्यकतानुसार स्क्रीन पर स्कैन करने वाला यन्त्र होता है।

सेकण्डरी मेमोरी (Secondary Memory)– यह स्थायी मैमोरी है जिसमें संचित डेटा कम्प्यूटर बन्द होने पर भी नष्ट नहीं होता है।

सिक्‍वेंशियल एक्सेस (Sequential Access)– किसी डेटा को एक ही क्रम में पढ़ने को सिक्‍वेंशियल एक्सेस कहा जाता है।

स्टेटिक रैम (Static RAM)– यह RAM का एक प्रकार है, जिसमें डेटा विद्युत सप्लाई ऑन रहने तक ही स्टोर होता है।

सुपर कम्प्यूटर (Super Computer)– वह कम्प्यूटर जिसमें कई प्रोसेसर समांतर क्रम में लगे होते हैं तथा यह उच्च क्षमता वाले कम्प्यूटर होते हैं। इन्हें किसी विशेष प्रयोजन के लिए ही तैयार किया जाता है।


Computer Terms that starts with letter T

टेक्स्ट (Text)– शब्दों, अंकों व प्रतीकों का समूह टेक्स्ट कहलाता है।

टैब (Tab)– इसका प्रयोग कर्सर को एक बार में पाँच स्थान आगे ले जाने के लिए किया जाता है।

टाइम शेयरिंग (Time Sharing)– इसके अन्तर्गत कई उपभोक्ताओं के एक साथ काम करने पर, सी पी यू द्वारा प्रोग्रामिंग के लिए एक निश्चित समयावाधि प्रदान की जाती है।


Computer Terms that starts with letter U

यूनिक्स (Unix)– इस ऑपरेटिंग सिस्टम को सर्वर तथा वर्क-स्टेशन दोनों में प्रयोग किया जा सकता है। इसमें डेटा प्रबन्ध का कार्य कर्नल (Kernal) द्वारा होता है।

यू पी एस (UPS) (Uninterupted Power Supply)– कम्प्यूटर को लगातार विद्युत्‌ उपलब्ध कराने वाला उपकरण है।

अनडू (Undo)– किसी प्रोग्राम में किये गये परिवर्तनों को पुनः प्राप्त करने को अनडू कहा जाता है।

यूजर फ्रैंडली (User Friendly)– कम्प्यूटर की कम जानकारी रखने वाले यूजर की सहायता करने वाले सॉफ्टवेयर को यूज़र फ्रेंडली सॉफ्टवेयर कहा जाता है।


Computer Terms that starts with letter V

वायरस (Virus)– वायरस वो प्रोग्राम है जो कम्प्यूटर पर नकारात्मक प्रभाव डालते हैं। ये पी सी पर कण्ट्रोल हासिल करके उनसे असामान्य व विनाशकारी कार्यों को करवाते हैं।

विडियो डिस्क (Video Disk)– यह एक भण्डारण युक्ति है। जिसमें डेटा विडियो के रूप में संगृहीत रहता है।

विडियो डिस्प्ले टर्मिनल (Video Display Terminal)– इस टर्मिनल में इनपुट के लिए की-बोर्ड तथा आउटपुट के लिए केवल मॉनीटर का प्रयोग किया जाता है।


Computer Terms that starts with letter W

वाइड एरिया नेटवर्क (Wide Area Network)– यह बहुत से कम्प्यूटरों से मिलकर बना होता है। जिसका विस्तृत क्षेत्र शहर, महाद्वीप अथवा पूरे देश में फैला होता है।

वैबसाइट (Website)– विभिन्‍न वेब पेजों के संग्रह को वेबसाइट कहते हैं। जिसका प्रयोग इण्टरनेट पर जानकारी को प्राप्त करने के लिये किया जाता है।

विन्डो (Window)– कम्प्यूटर स्क्रीन का वह भाग, जिसके द्वारा यूजर अपने विभिन्‍न कार्य सम्पन्न करता है। विण्डो कहलाता है।

वर्ड प्रोसेसिंग (Word Processing)– इस साफ्टवेयर का प्रयोग डॉक्यूमेण्ट्स को बनाने, एडिट करने तथा प्रिण्ट करने में होता है।

वेब ब्राउजर (Web Browser)– इस सॉफ्टवेयर द्वारा इण्टरनेट पर वेबसाइटों को आसानी से खोजा जाता है।


Computer Terms that starts with letter Z

जूम (Zoom)– इसके द्वारा, किसी चित्र या तथ्य को बड़ा करके देखा जाता है।

Related Tags - computer dictionary a to z with meaning, computer glossary alphabetical computer glossary, Glossary of Computer and Internet Terms in Hindi Glossary, All Terms and Definitions Listed Alphabetically, computer terminology, computer terminologies and its meaning, computer terms list, computer terminology for beginners, computer terminologies a-z, computer terminology dictionary, computer terms for dummies, computer dictionary a to z

Read Also

Post a Comment